तुलसीदास का जीवन परिचय ! तुलसीदास जीवनी In Hindi

जन्म – 1589 विक्रम संवत
जन्म स्थान – राजापुर, बाँदा ( उo प्रo )
पिता – आत्माराम दुबे
माता – हुलसी देवी
मृत्यु – 1623 ई०

तुलसीदास का जीवन परिचय = गोस्वामी तुलसीदास का जन्म 1589 विक्रम संवत में उत्तर प्रदेश के राजापुर गांव में हुआ था। इनके पिता जी का नाम आत्माराम दुबे था तथा माता का नाम हुलसी देवी था। गोस्वामी तुलसीदास के जन्म स्थान के बारे में कई भ्रांतियां है क्यूंकि कुछ बिद्वान इनका जन्म उत्तर प्रदेश के एटा जिले के सोरों ( सूकरखेत ) नामक गॉव में मानते हैं। अधिकतर विद्वान इनका जन्म राजपुर गॉव में ही मानते हैं।

बाल्यकाल से ही माता-पिता का देहांत हो जाने के कारण इनका पालन पोषण संत नरहरिदास के देख रेख में हुआ, संत नरहरिदास की देख रेख में ही गोस्वामी तुलसीदास ने भक्ति ज्ञान की विद्या अर्जित की और शिक्षा पूर्ण होने पर अपने गॉव राजा आ गए। इनका विवाह दीनबंधु पाठक की पुत्री रत्नाबली से हुआ ,तुलसीदास अपनी पत्नी से बहुत अधिक प्रेम करते थे। एक बार इनकी पत्नी ने किसी बात पर नाराज होकर कहा जितना प्रेम आप मुझसे करते हो अगर इतना ध्यान प्रभु भक्ति में देते तो आपको साक्षात् भगवान् मिल जाते। रत्नाबली की ये बाते गोस्वामी तुलसीदास के दिल को छु गई और इन्हे बैराग्य हो गया।

इसके बाद तुलसीदास काशी चले गए और बहां इन्होने वेद वेदांग का ज्ञान प्राप्त किया और अनेक तीर्थो का भ्रमण करते हुए श्री राम का गुणगान लगे। तुलसीदास का अधिकतर जीवन काशी अयोध्या और चित्रकूट में ब्यतीत किया। और अपने जीवन के अंतिम समय में काशी आ गए और सं 1623 ई० को परमात्मा में विलीन हो गए।

रचनायें -:

श्रीराम के प्रति अनन्य भक्ति ने रामचरित मानस जैसे दिव्य ग्रन्थ की रचना कवि द्वारा करवाई. रामचरितमानस के अतिरिक्त तुलसीदास जी की अन्य रचनाओं में विनयपत्रिका, कवितावली, गीतावली, दोहावली, जानकीमंगल और बरवै रामायण हैं. तुलसीदास का जीवन परिचय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *